SchoolChalao

  • Helpline: +91-8058868746
  • Mail us: help@schoolchalao.com
  • LOGIN | REGISTER
    Tutorial Library
Home > Learning Point > Poems and rhymes > Hindi poems > Nanha Munna Rahi Hoon

Learning Point

Nanha Munna Rahi Hoon

Previous Next

नन्हा मुन्ना राही हूँ, देश का सिपाही हूँ
बोलो मेरे संग जय हिन्द..जय हिन्द..जय हिन्द
जय हिन्द..जय हिन्द
धुप में पसीना मै बहाऊंगा जहाँ, हरे हरे खेत लहरायेंगे वहाँ
धरती पे पापी न पाएँगे जनम, आगे ही आगे बढ़ाऊँगा कदम

नन्हा मुन्ना राही हूँ, देश का सिपाही हूँ
बोलो मेरे संग जय हिन्द..जय हिन्द..जय हिन्द
जय हिन्द..जय हिन्द
नया है जमाना, मेरी नयी है डगर
देश को बनाऊँगा, मशीनों का नगर
भारत किसी से रहेगा नही कम
आगे ही आगे बढ़ाऊँगा कदम

नन्हा मुन्ना राही हूँ, देश का सिपाही हूँ
बोलो मेरे संग जय हिन्द..जय हिन्द..जय हिन्द
जय हिन्द..जय हिन्द
बड़ा होकर देश का सहारा बनूँगा
दुनिया की आँखों का तारा बनूँगा
रखूँगा ऊँचा तिरंगा बरछम
आगे ही आगे बढ़ाऊँगा कदम

नन्हा मुन्ना राही हूँ, देश का सिपाही हूँ
बोलो मेरे संग जय हिन्द..जय हिन्द..जय हिन्द
जय हिन्द..जय हिन्द
शांति की नगरी है, मेरा यह वतन
सबको सिखाऊंगा, मै प्यार का चलन
दुनिया में गिरने न दूँगा कहीँ बम
आगे ही आगे बढ़ाऊँगा कदम

नन्हा मुन्ना राही हूँ, देश का सिपाही हूँ
बोलो मेरे संग जय हिन्द..जय हिन्द..जय हिन्द
जय हिन्द..जय हिन्द

 

 

Very Useful (0)

Useful (0)

Not Useful (0)